अभिनेता धामा वर्मा का हैट्रिक धमाका - DIGITAL CINEMA

Header ads


अभिनेता धामा वर्मा का हैट्रिक धमाका


हिन्दी व क्षेत्रीय भाषओं की फिल्मों के स्थापित कलाकार धामा वर्मा ने अपनी रिलीज फिल्मों की हैट्रिक मना ली है। 'प से प्यार फ से फरार ,‘किरकेट’ और ‘जंक्शन वाराणसी’ वो फिल्में हैं, जिसमें अभिनेता धामा वर्मा की उपस्थिति ने दर्शकों का ध्यान खींचा है। यह पहला अवसर है जब धामा वर्मा की तीन फिल्में पिछले सप्ताह एक ही दिन प्रदर्शित हुईं। धामा फिल्मों के चयन के मामले में अत्यंत सजग कलाकार हैं। वह फिल्म के कथानक और अपनी भूमिका की प्रासंगिकता पर अधिक ध्यान देते हैं। यही कारण है कि केतन मेहता की बायोपिक फिल्म  ‘‘मांझीः द माऊंटेन’’ में  छोटी-सी भूमिका की,  पर,  सबने प्रशंसा की। फिल्म के लेखक वरदराज स्वामी ने जब स्वयं फिल्म निर्देशन का निर्णय लिया तो धामा वर्मा को अपनी फिल्म ‘‘गुलमोहर’’ में एक चुनौतीपूर्ण नकारात्मक भूमिका सौंप दी। इसमें वह एक दरोगा के रूप में दिखायी देंगे, जिसका नाम छेदी दास है। इन दिनों धामा हिन्दी फिलमों के अतिरिक्त वेब सीरीज और भोजपुरी फिल्मों में व्यस्त हैं। राधेश्याम के निर्देशन में आने वाली फिल्म- ‘‘मुंबई टू गोरखपुर’’ है और एक वेब सीरीज 'अनकही’ भी है। धामा टेलीविजन पर भी सक्रिय रहे हैं। हिन्दी में ‘अर्जुन पंडित’ और ‘विधान’ नामक धारावाहिकों में काम करने के बाद भोजपुरी सीरियल ‘घर आंगन’ में भी  महत्वपूर्ण  भूमिका  निभायी  थी।  जीजी  मां,  दीया  और  बाती  हम,  लाल  इश्क, क्राईम पेट्रोल, सावधान इंडिया जैसे सीरियल और ‘किरायेदार’ नामक वेब सीरीज में भी वह काम कर चुके हैं। भोजपुरी में कई फिल्में करने वाले धामा को ‘‘गंगा’’ में अमिताभ बच्चन के साथ भी काम करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। भोजपुरी के अलावा उन्होंने मैथिली और बांग्ला फिल्में भी की हैं। धामा वर्मा एक समर्थ अभिनेता हैं और सहज अभिनय के लिये जाने जाते हैं।



No comments