दिव्यांगजनों को समर्पित संदेशपरक फिल्म'आई एम नॉट ब्लाइंड' का प्रमोशन दिल्ली में तेज गति से जारी......!*** - DIGITAL CINEMA

Header ads


दिव्यांगजनों को समर्पित संदेशपरक फिल्म'आई एम नॉट ब्लाइंड' का प्रमोशन दिल्ली में तेज गति से जारी......!***


मदारी आर्ट्स और पिस्का एंटरटेनमेंट के द्वारा संयुक्त रूप से बनाई गई फिल्म-'आई एम नॉट ब्लाइंड' अब बहुत जल्द ही सिने दर्शकों तक पहुँचने वाली है।इस फिल्म के प्रमोशन के लिए अभिनेता आनंद कुमार और निर्देशक गोविन्द मिश्रा अपनी टीम के साथ दिल्ली और गाज़ियाबाद पहुँचे हैं।राष्ट्रीय आयोग अनुसूचित जनजाति मंत्री श्री नंद कुमार साई और स्टील माइंस राज्य मंत्री(भारत सरकार) श्री विष्णु देव साई के समक्ष इस फिल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग हो चुकी है।साथ ही साथ गाज़ियाबाद स्थित मेवाड़ इंस्टिट्यूट में भी इस फिल्म का प्रमोशन किया जा चुका है।
छत्तीसगढ़ व झारखंड की धरती से संयुक्त रूप से जुड़े अभिनेता आनंद कुमार पिछले 22 वर्षों से नुक्कड़ नाटक के माध्यम से समाज मे व्याप्त जन समस्याओं के उन्मूलन हेतु जन जागरूकता अभियान चलाते चले आ रहे हैं।अभिनेता आनंद कुमार छत्तीसगढ़ व झारखंड प्रदेश की लोक कला संस्कृति के सरंक्षण के प्रति सजग हैं और उन्हें अंतर्राष्ट्रीय पटल पर स्थापित करने की दिशा में क्रियाशील हैं।आज के दौर को वो सार्थक इंस्पायरिंग सिनेमा का दौर मानते हैं,उनका ये भी मानना है कि सिनेमा राजनीतिक व सामाजिक बदलाव का हथियार है और उनकी इसी सोच का प्रतिफल है दिव्यांगजनों को समर्पित संदेशपरक फिल्म-'आई एम नॉट ब्लाइंड'। एक अंधे व्यक्ति के आई ए एस बनने की सफलता की कहानी को स्क्रीन पे युवा लेखक व निर्देशक गोविन्द मिश्रा ने बड़े ही कलात्मक ढंग से साकार किया है।फिल्म में ब्लाइंड व्यक्ति की सशक्त भूमिका निभाई है अभिनेता आनंद कुमार ने। रोहित शुक्ला की कलात्मक सिनेमेटोग्राफी से सजी,दिव्यांगजनों को समर्पित संदेशपरक फिल्म-'आई एम नॉट ब्लाइंड' के गीतकार गोविंद मिश्रा, संगीतकार अंकित शाह,एडिटर असिधारा रेज़ और लाइन प्रोड्यूसर अखिलेश शुक्ला हैं।इस फिल्म में शामिल गीतों को स्वर दिया है अमी मिश्र और हिमांशु कोहली ने।आम लीक से हट कर बनाई गई इस इमोशनल ऑफबीट फिल्म के मुख्य कलाकार आनंद कुमार, शिखा,अमित घोष,गोपा सान्याल,विनय अम्बस्ट,कृष्णानंद तिवारी,उपासना वैष्णव, देवेश बेहेरा,पारुल मिश्रा, अधिश्री रेज़,किरण गुप्ता और वंदना गुप्ता आदि हैं।             
देश के 5 करोड़ से भी अधिक दिव्यांगजनों की भावनाओं एवं सफलता की कहानी पर आधारित  फिल्म-'आई एम नॉट ब्लाइंड' से दिव्यांगजनों को काफी उत्साह मिलेगा इसी उम्मीद के साथ इस फिल्म का निर्माण किया गया है।



संवाद प्रेषक: काली दास पाण्डेय





No comments