* ताजनगरी आगरा में होगी अंतर्राष्ट्रीय फिल्मों की स्क्रीनिंग * - DIGITAL CINEMA

Header ads


* ताजनगरी आगरा में होगी अंतर्राष्ट्रीय फिल्मों की स्क्रीनिंग *

 


ग्लैमर लाइव फिल्म्स एवं के.एम.आई. संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में ग्लोबल ताज फिल्म फेस्टिवल 2020  का आयोजन पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी हो रहा है। 6 से 8 नवंबर तक अम्वेदकर विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित होने वाले 'ग्लोबल ताज इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल' 2020 में भारत समेत लगभग 7 देशों से भी अधिक देशों की फिल्में प्रदर्शित की जाएंगी। फ़िल्म फ़ेस्टिवल समारोह के संरक्षक रंजीत सामा के द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक इस तीन दिवसीय फिल्म फेस्टिवल में लगातार स्थानीय हस्तियों का आगमन होता रहेगा। डॉ अम्वेदकर विवि के कुलपति प्रो.अशोक मित्तल जी, सूबे के राज्यमंत्री चौ. उदयभान सिंह, सांसद प्रो. एस. पी. सिंह बघेल, सांसद राजकुमार चाहर, मेयर नवीन जैन, विधायक योगेंद्र उपाध्याय, रामप्रताप सिंह चौहान, पुरुषोत्तम खंडेलवाल,भगत सिंह भघेल,  वरिष्ठ कवि डा. सोम ठाकुर, गीतकार डा. रामेन्द्र मोहन त्रिपाठी, सुरेंद्र साथी,जवाहर डावर, प्रतिभा जिंदल, मंगल सिंह धाकड़, मुकेश नेचुरल ,संजय गोयल, धनंजय सिंह आदि समारोह के दौरान उपस्थित रहेंगे। कर्टेन रेसर सेरेमनी के अगले दिन फ़ेस्टिवल के प्रथम दिन उदघाटन सत्र होगा, जिसमें बॉलीवुड के गणमान्य लोग भी मौजूद रहेंगें।जूरी टीम में विनोद गनातारे, आकाश आदित्य लामा, जितेंद्र शर्मा,अभिनेत्री पुतुल गुप्ता, सिने एवं टी वी अभिनेता  उमेश बाजपेयी होंगे। अंतिम दिन चयनित फिल्मकारों को अवार्ड्स दिए जाएँगे। इस फिल्म फेस्टिवल का मुख्य आकर्षण 'टॉक शो' का सत्र होगा जिसमे विपिन गोजे का सिनेमेटोग्राफी वर्कशॉप और मास्टर्स टॉक शो भी शामिल है। इस सत्र को चर्चित फ़िल्म समीक्षक डॉ महेश धाकड़ मॉडरेट करेंगें।

                  फेस्टिवल के निदेशक और ग्लैमर लाइव फिल्म्स के संचालक सूरज तिवारी के मुताबिक तीन दिवसीय समारोह के दौरान देश- विदेश के निर्माता, निर्देशक, प्रोडक्शन हाउस, लेखक, अभिनेता भी हिस्सा लेंगे। इन लोगों को आगरा और इसके निकटवर्ती इलाकों में उपलब्ध शूटिंग की लोकेशन भी दिखाई जाएगी। जिससे भविष्य में वे यहां फिल्मों को शूट करने का विचार बनाएं। इस से आगरा शहर और उत्तर प्रदेश को पहचान मिलेगी। फ़िल्म व पर्यटन से संबंधित उद्योगों को भी बढ़ावा मिलेगा। 

                इस समारोह में पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी दादा साहेब फाल्के लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड और दादा साहब की पत्नी सरस्वती फाल्के (जो भारतीय फिल्म जगत की पहली तकनीशियन थीं) को समर्पित एक अवॉर्ड चयनित फिल्मकार और सिनेमा में योगदान करने वाली महिला तकनीशियन को दिया जाएगा। 

संवाद प्रेषक: काली दास पाण्डेय

No comments