*'साज कलम आवाज' कार्यक्रम का भव्य आयोजन* - DIGITAL CINEMA

Header ads


*'साज कलम आवाज' कार्यक्रम का भव्य आयोजन*




पिछले दिनों "मेलोडीमैक्स" द्वारा "साज कलम आवाज" प्रोग्राम का आयोजन मुंबई अंधेरी (पश्चिम) स्थित भवंस कॉलेज के एसपी जैन ऑडिटोरियम में किया गया. इस कार्यक्रम का आगाज मोनू और निकिता के स्वर में 'साज कलम आवाज' शीर्षक गीत के साथ किया गया. इस गीत के रचनाकार मदन पाल और कंपोजर सुधाकर स्नेह हैं. कार्यक्रम में साज की प्रस्तुति में उस्ताद कमाल साबरी का सारंगी वादन और उस्ताद फजल कुरैशी का तबला वादन था. सारंगी पर साढे नौ  मात्रा के साथ तबला की संगत ने श्रोताओं को भाव -विभोर कर दिया.
'साज' के बाद श्रृंखला में अगली  बारी 'कलम' की थी. कवि- गीतकार शेखर अस्तित्व ने पहले कविता पाठ किया. फिर कवियित्री प्रभा शर्मा ने अपनी ग़ज़लों से सबको मंत्रमुग्ध कर दिया. सैकड़ों  सुपरहिट गानों के गीतकार मदन पाल ने अपनी कविताओं और गीतों से खूब तालियां बटोरी. इसी श्रृंखला में अभिनेता कमेडियन सुनील पाल ने अपनी प्रस्तुति से सभागृह में बैठे सभी श्रोता-दर्शकों को खूब हंसाया.
कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए 'आवाज' श्रृंखला के अंतर्गत सत्यम आनंद में अपनी गजल गायकी प्रस्तुत की. फिर मंच पर जवां दिलों की धड़कन मशहूर गायक शाहिद माल्या आए. शाहिद माल्या ने एक के बाद एक हिंदी और पंजाबी गाने गाकर श्रोताओं का दिल जीत लिया. इस रंगारंग कार्यक्रम का संचालन किया गायक - संगीतकार सुधाकर स्नेह ने.
'साज कलम आवाज' कार्यक्रम के दौरान सभागृह साहित्य, कला और संगीत प्रेमीजनों से पूरा भरा हुआ था. सभी श्रोता-दर्शकों ने कार्यक्रम का भरपूर आनंद उठाया. इस कार्यक्रम के विशेष अतिथियों में डॉ वागीश सारस्वत राजीत मेहता, मुरलीधर और शाहिद माल्या की माता श्री प्रमुख थी. "मेलोडीमैक्स" द्वारा आयोजित 'साज कलम आवाज' का यह पहला कार्यक्रम बहुत ही सफल रहा. अंत में सुधाकर स्नेह ने सभी का धन्यवाद ज्ञापन किया.





No comments